"JavaScript is a standard programming language that is included to provide interactive features, Kindly enable Javascript in your browser. For details visit help page"

Facilities & Service Corners

सर्वाकाशीयवायुदीप्ति इमेजर

यंत्र का विवरण: -
निर्माण: किओवैज्ञानिक,
मॉडल: सेंट्री3 इमेजर

विनिर्देश:
एक सीसीडी-कैमरा (512x512 या 1024x1024 पिक्सल) द्वारा सक्षम व्यापक दृश्य -क्षेत्र (~180 o) इमेजिंग क्षमताओं के साथ एक बहु-तरंगदैर्घ्य् फोटोमापी। फिल्टरों के मध्यय तरंगदैर्य् ज आमतौर पर निम्नंत: स्थाबपित किया जाता है: 630.0nm, 777.4nm, 557.7nm, 589.2nm, 572.5nm और 700 और 930.0 के बीच विस्ताथर-बैंड
 
सिद्धांत
दो दशक से अधिक समय तक भा.भू.सं.के वैज्ञानिकों द्वारा फोटोमापीप्रेक्षणों के माध्यम से वायुदीप्ति उत्सर्जन के सुदूर संवेदन को बड़े परिश्रम से आगे बढ़ाया गया है। फोटोमापी कई हस्तक्षेप फिल्टरों का उपयोग करते हैं और ~87 किमी से निकलने वाले OH उत्सर्जन के घूर्णनात्म्क-कंपन बैंड की रेखा तीव्रता को मापने वाले लोग घूर्णनात्मHक तापमान (उन ऊंचाइयों पर गतिज तापमान के बराबर) का मापन प्राप्त कर सकते हैं। सर्वाकाशीय इमेजर्स व्यापक दृश्यन-क्षेत्र फ़ोटोमापी हैं जो वायुदीप्तिको विक्षुब्धर करने वाली छोटे पैमाने की गुरुत्वाकर्षण तरंगों पर उपयोगी जानकारी दे सकते हैं।

इमेज प्रसंस्कतरण:
यह एक बहु-चरण प्रक्रिया है जिसमें (i)दृश्ये-क्षेत्रनिर्धारण, (ii) इमेज अंशांकन, (iii) पुन:-ग्रिडिंग, (iv) स्टार फील्ड हटाना, (v) पृष्ठिभूमि और सपाट क्षेत्र संशोधन और अंत में (vi) समय निर्धारण शामिल हैं

तिरुनेलवेली से ज्ञात गुरुत्व तरंग घटना का एक उदाहरण: 14/15 फरवरी की रात को तरंग घटना के समय की अंतर छवियां। क) OH इमेज, बी) उल्लिखित समय में OHइमेज में दिखाए गए तीर के साथ लिए गए चित्रों के क्रम से अनुप्रस्थम स्थिति। तिरछी रेखाएं समय की प्रगति के रूप में बाईं ओर शीर्षोंकी गति दर्शाती हैं, ग) Na इमेज, घ) OI इमेज। (सतह रेखाएं किमी में दूरी दर्शाती हैं)।

Hindi